Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

गले मिलकर रोई साध्वी प्रज्ञा ठाकुर तो उमा भारती ने आंसू पोछकर उनका मुंह मीठा करवाया

गले मिलकर रोई साध्वी प्रज्ञा ठाकुर तो उमा भारती ने आंसू पोछकर उनका मुंह मीठा करवाया

भगवा वस्त्र धारण करने वाली बीजेपी में कुछ चुनिंदा नेताओं में से उमा भारती सबसे ऊपर आती है। उमा भारती मध्य प्रदेश में दिग्विजय सिंह को हराकर मुख्यमंत्री भी रही है। लेकिन इस बार उन्होंने लोकसभा चुनाव 2019 को लड़ने से मना कर दिया। उनके स्थान पर मालेगांव बम धमाकों की आरोपी साध्वी प्रज्ञा इस बार चुनाव लड़ने वाली है। इसे लेकर उमा और प्रज्ञा दोनों ही चर्चा का मुख्य विषय बनी हुई है।

हाल ही में तस्वीरें सामने आयी है जिसमे उमा और प्रज्ञा दोनों ही एक दूसरे के गले मिल रही है। साथ ही उमा भारती प्रज्ञा ठाकुर को कुछ खिला भी रही हैं। इतना ही नहीं वे दोनों इतनी भावुक हो गयी कि खुद के आंसुओं को रोक नहीं सकी और उनके आंसू भी बहने लगे।

यह तस्वीरें तब सामने आयी है जब उमा ने अपने एक पुराने बयान के बारे में कहा कि उनके बयान को मीडिया ने काट कर पेश किया है। उन्होंने कहा कि, 'मुझे दीदी मां साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने से बहुत अधिक खुशी मिली है। उन्हें मैं एक महान संत व देशभक्त मानती हूं वह इसलिए की जो कष्ट उन्होंने झेले हैं, वो कष्ट एक साधारण व्यक्ति कभी भी नहीं झेल सकता है।'

कटनी में उमा भारती से एक सवाल किया था कि क्या साध्वी प्रज्ञा सिंह ने एमपी में उनका स्थान ले लिया है। इस पर उन्होंने कहा कि 'वह एक महान संत हैं, मेरी उनसे तुलना मत कीजिए। मैं एक साधारण और मूर्ख प्राणी हूं।'

बता दें की साध्वी प्रज्ञा खुद ही उमा भारती के आवास पर उनसे मिलने पहुंची। जहाँ पर उमा भारती ने प्रज्ञा को गले लगाया और चम्मच से कुछ खिलाते हुए आशीर्वाद भी दिया।उमा भारती प्रज्ञा ठाकुर को गाड़ी तक छोड़ने भी आयी इस पर प्रज्ञा भावुक होकर रोने लगी। उन्हें देखकर उमा भारती ने उन्हें गले लगा लिया। साथ ही उनके आंसू पोंछकर उनका माथा भी चूमा।