Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

राहुल गांधी की रैली में आदिवासी महिलाओं ने लगाए “मोदी जिंदाबाद” के नारे

राहुल गांधी की रैली में आदिवासी महिलाओं ने लगाए “मोदी जिंदाबाद” के नारे

लोकसभा चुनाव जारी हैं और विभिन्न राजनीतिक दलों का जनता से वादे करने और अपने इरादे बताने का सिलसिला भी लगातार चल रहा है। कांग्रेस और बीजेपी रैलियां निकाल कर अपना प्रचार करने में लगी हुई है। इसी कड़ी में राहुल गांधी भी गुरुवार को झारखंड के सिमडेगा में रैली को संबोधित कर रहे थे। इस रैली के दौरान वहां पहुंची महिलाओं ने मोदी जिंदाबाद के नारे लगाए। जिसे देख कर रैली का माहौल असहज हो गया था।

हुआ यूँ की राहुल गाँधी झारखंड में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान राहुल गाँधी ने अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार पर तीखे हमले किये। उनका भाषण समाप्त होते ही काँग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मंच से ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगाए। तभी मंच के सामने बैठीं आधा दर्जन आदिवासी महिलाएं ‘मोदी जिंदाबाद’ के नारे लगाने लगीं। महिलाओं के ‘मोदी जिंदाबाद’ के नारे लगाता देख आयोजक थोड़ी देर के लिए सन्न रह गए और उन्हें समझ नहीं आया कि वो क्या करें।

मोदी जिंदाबाद के बाद वंहा मौजूद मीडिया के लोगो ने आदिवासी महिलाओं से नारे लगाने की वजह पूछी तो उन्होंने ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैं क्योंकि उन्होंने शौचालय बनाए, गैस कनेक्शन दिए, मकान और बिजली दी है। ये आदिवासी महिलाएं यहीं तक नहीं रुकीं बल्कि उन्होंने पत्रकारों से पूछा कि क्या उनकी नारेबाज़ी के बारे में नोट कर लिया गया है या नहीं।

भाषण के दौरान राहुल ने मोदी सरकार पर जमकर है हमला बोला। उन्हे यह भाषण करीब आधा घंटा चला। राहुल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर पूंजीपतियों के हित में काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मालिक जनता है, मोदी नहीं। साथ ही उन्होंने ऐलान किया कि केन्द्र में यदि कांग्रेस की सरकार बनी तो 'चोरों की जेब से छीनकर हर साल 5 करोड़ गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये दिए जाएंगे।

Loading...