Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा “अभिनंदन मामले में विपक्ष ने की थी षडयंत्र रचने की कोशिश”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा “अभिनंदन मामले में विपक्ष ने की थी षडयंत्र रचने की कोशिश”

पाकिस्तान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिर से आतंकियों के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए कहा है। यह बात उन्होंने एक टीवी चैनल को इंटरव्यू के दौरान कही। मोदी जी ने कहा की 'हिंदुस्तान की मांग है कि पाकिस्तान आतंक छोड़े, इंटरपोल रेड कॉर्नर नोटिस पाने वाले आतंकियों को पाकिस्तान हमें सौंपे। इसके साथ ही 26/11 के गुनाहगारों को पाकिस्तान हमें सौंपे।'

उन्होंने यह भी कहा की जो लोग अपने देश के प्रधानमंत्री पर शक करते है उन्हें पहचानना होगा, साथ ही साथ जो लोग पाकिस्तान के पीएम का पक्ष लेते है उन्हें भी पहचानना जरूरी है। अभिनंदन के विषय में पीएम मोदी जी ने कहा की जब यह घटना घटित हुई थी तब उस समय भी देश के हर एक दल के लोगो को एक साथ रहना चाहिए था और कहना चाहिए था की हमें अपनी सेना पर गर्व है की उसने F16 को धराशायी कर दिया। लेकिन विपक्ष ने इसके विपरीत कार्य किया, वह इस बात पर षड्यंत्र रचने को तैयार हो गयी की अभिनंदन वापस कब आएगा? उन्होंने उसी रात को कैंडल लाइट मार्च भी किया और पुलवामा हमले को भी मुद्दा बनाया। पर विपक्ष के मंसूबों पर तब पानी फिर गया जब शाम को ही 4-5 बजे तक पाकिस्तान ने अभिनंदन को छोड़ने की घोषणा कर दी।

पीएम मोदी ने आगे कहा की पहले लोग मोदी के बारे में नहीं जानते थे लेकिन अब सभी लोग मोदी को जानते है। राष्ट्रीय सुरक्षा जैसे मामलों के लिए में क्या कर सकता हूँ यह देश के लोग जानते है। मेरी देश भक्ति पर कोई शक नहीं है। उन्होंने बताया की A-SAT पर कांग्रेस में प्राथमिक ज्ञान का अभी अभाव है। A-SAT टेस्ट के लिए एक लम्बी प्लानिंग की गयी थी। देश 30 सालों से अस्थिर है और अब वह स्थिरता चाहता है। देश अब पूर्ण बहुमत की सरकार चाहता है। इसलिए 2019 में हम अधिक सीट जीतेंगे।