Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नहीं मानी केजरीवाल से गठबंधन की मांग, कर दिया इंकार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने नहीं मानी केजरीवाल से गठबंधन की मांग, कर दिया इंकार

पिछले काफी समय से ये अटकलें लगाई जा रही थीं कि आप और कांग्रेस के बीच जल्द गठबंधन हो सकता है, बस सीटों को लेकर खींचतान चल रही है। पर अब खबर आ रही है की दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की संभावनाओं पर अंततः विराम लग गया है।

आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने खुद यह जानकारी दी है कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन लोकसभा चुनाव 2019 के लिए नहीं होने जा रहा है। केजरीवाल ने सोमवार को बयान दिया कि कांग्रेस ने गठबंधन से साफ इनकार कर दिया है।

एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत के दौरान आम आदमी पार्टी के प्रमुख मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उन्होंने हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी जिसमे राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी के साथ चुनाव लड़ने से साफ़ इनकार कर दिया।

आप नेता अरविन्द केजरीवाल बीजेपी को हराने के लिए हर संभव कोशिश कर के कांग्रेस के साथ गठबंधन करने की जद्दोजहद में लगे हुए थे पर कांग्रेस अध्यक्ष के मना कर देने के बाद आप पार्टी की उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आ गया है।

दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष शीला दीक्षित के उनसे संपर्क ना करने के बयान पर केजरीवाल ने कहा ‘हमने गठबंधन को लेकर राहुल गांधी से बात की है, शीला दीक्षित महत्वपूर्ण नेता नहीं है।’ केजरीवाल ने कांग्रेस पार्टी से आग्रह किया था कि भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से दूर रखने के लिए उन्हें  आपस में हाथ मिला लेना चाहिए। कांग्रेस के कई नेता भी आप के साथ गठबंधन के पक्ष में थे। लेकिन बताया जा रहा है कि सीटों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच सहमति नहीं बन पाई। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आप से गठबंधन से इनकार करने के साथ ही राज्य की 7 सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला होना तय हो गया है।