Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

मुंबई में लांच हुआ दुनिया का आठवां अजूबा! अरब सागर की लहरों पर बिताने को मिलेंगे सुकून के पल

मुंबई में लांच हुआ दुनिया का आठवां अजूबा! अरब सागर की लहरों पर बिताने को मिलेंगे सुकून के पल

भारत के बहुत से लोग क्रूज का मजा लेने के लिए विदेश घूमने जाते है। लेकिन अब आपको विदेश  जाने की जरूरत नहीं है। अब भारत में ही एक लक्ज़री क्रूज आपका इंतज़ार कर रहा है। यह भारत का पहला वर्ल्ड क्लास क्रूजशिप जलेश “कर्निका” क्रूज होगा। इसकी सेवाएं भी शुरू हो चुकी है। इसे बहुत ही खूबसूरती से भारत के और अंतरराष्ट्रीय मेहमानों के लिए डिजाइन किया गया है। मुंबई में ही इसका नामकरण और समारोह हुआ।

जलेश क्रूज टर्मिनल की अंतरराष्ट्रीय स्तर की कर्णिका क्रूज शिप 14 मंजिली शानदार क्रूज है।  करीब 2 हजार 700 पैसेंजर क्षमता वाली कर्णिका क्रूज की लंबाई दो सौ पचास मीटर है। समुद्र पर तैरता हुआ यह क्रूज 7 स्टार होटल से भी ज्यादा शानदार है। इस क्रूज में शॉपिंग के लिए शॉपिंग सेंटर भी है और इसके अलावा इसमें कई तरह के रेस्टारेंट, मनोरंजन के लिए कैसिनो और म्यूजिक का भी खास इंतजाम है। क्रूज के अंदर दो स्वीमिंग पुल तथा बच्चों के लिए वाटर पार्क भी है।

इस क्रूज की पहली यात्रा हो चुकी है। बता दे की एक दिन पहले मुंबई से चलकर पूरी रात में यात्रा पूरी कर ये क्रूज सुबह गोवा पहुंची। जैसे ही ये गोवा पहुंची भारत ने टूरिज्म की नई उंचाई छू ली। क्रूज यात्रा का अनुभव ऐसा था कि सैलानियों की ख़ुशी का ठिकाना नहीं था। सफर करने वाले लोग इसे दुनिया का आठवां अजूबा बता रहे हैं। लोग कह रहे है की इस क्रूज में मेहमान-नवाजी से लेकर क्रुज के सभी कार्यक्रम बहुत शानदार थे। लोग इसकी तुलना विदेश के क्रूज से कर रहे है।

क्रूज के सीईओ जर्जेन बेलम का कहना है कि ये भारत का ऐसा पहला क्रूजशिप है। इसमें सफर करना बेहद शानदार है। इसे हर सुख-सुविधा का खयाल रख कर बनाया गया है। ट्रेवल एंड टूर इंडस्ट्री के लोगो ने इस क्रूज को देख कहा की इससे क्रूज पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इसके आने से लोग विदेश का मजा भारत में ही उठा सकेंगे। पार्टीज और फैमिली सेलिब्रेशन के लिए यह क्रूज एक अच्छी चॉइस हो सकती है।