Go to the profile of  Prabhat Sharma
Prabhat Sharma
1 min read

नई सियासी परंपरा की शुरुआत ,आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने पांच लोगों को डिप्टी सीएम बनाने का निर्णय

नई सियासी परंपरा की शुरुआत ,आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने पांच लोगों को डिप्टी सीएम बनाने का निर्णय

आंध्र प्रदेश के सीएम और वाईएसआर कांग्रेस के मुखिया जगनमोहन रेड्डी ने एक ऐसा फैसला लिया है जिसे क्रांतिकारी कदम बताया जा रहा है। जी हाँ वह अब एक नई सियासी परंपरा शुरू करने वाले है जिसमे उन्होंने पांच लोगों को डिप्टी सीएम बनाने का निर्णय लिया है। यह फैसला उन्होंने आंध्र प्रदेश की 25 सदस्यीय कैबिनेट में लिया।

बता दे कि एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान शनिवार को जगन मोहन की कैबिनेट का गठन होगा। जिसमे उन्होंने शुक्रवार को अपने आवास पर हुई बैठक में 5 डिप्टी सीएम नियुक्त करने का बयान दिया।

जगन के अनुसार, वह एसटी, एससी,पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक , कापू समुदाय से आने वाले 1-1 व्यक्ति को आंध्र प्रदेश का उप मुख्यमंत्री बनाने वाले है। उनका मूल मकसद सभी समुदायों को साथ रखने का है। अपने विधायकों से उन्होंने कहा है कि समाज के कमजोर तबके को उनकी कैबिनेट में वरीयता दी जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि ढाई साल के उपरांत सरकार के कामकाज की पूरी समीक्षा होगी और आवश्यकता पड़ने पर कैबिनेट का फिर से गठन भी किया जाएगा।

वाईएसआर कांग्रेस के विधायक एमएम शाइक ने सीएम जगन मोहन के इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'हम बहुत खुश हैं। आंध्र में पांच डिप्टी सीएम होंगे। एससी, एसटी, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और कापू समुदाय के एक-एक व्यक्ति को डिप्टी सीएम बनाया जाएगा। जगन मोहन भारत के सर्वश्रेष्ठ सीएम साबित होंगे।'

बता दे कि इससे पहले तेलुगू देशम पार्टी की चंद्र बाबू नायडू वाली सरकार में कापू और पिछड़े समुदाय से 1- 1 व्यक्ति को आंध्र प्रदेश का उप मुख्यमंत्री बनाया गया था।