Go to the profile of  Prabhat Sharma
Prabhat Sharma
1 min read

पश्चिम बंगाल में ढहने लगी है दीदी की दीवार, टीएमसी के 3 विधायकों ने थामा बीजेपी का हाथ

पश्चिम बंगाल में ढहने लगी है दीदी की दीवार, टीएमसी के 3 विधायकों ने थामा बीजेपी का हाथ

लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने भारी बहुमत हासिल किया है साथ ही पश्चिम बंगाल में पार्टी की अच्छी जीत हुई है। अब पश्चिम बंगाल में मंगलवार को मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु रॉय और तृणमूल कांग्रेस के दो विधायक (शिलभद्र दत्त और सुनील सिंह) बीजेपी में शामिल हुए । दिल्ली में शाम 4 बजे यह तीनों नेताओं की बीजेपी दफ्तर में पार्टी में शामिल होने के लिए आये है। इतना ही नहीं इन 3 नेताओं के अतिरिक्त प्रदेश के अलग अलग क्षेत्रों से 40 पार्षद भी बीजेपी में शामिल होने के लिए दिल्ली आ पहुचे हैं। ये पार्षद 24 परगना जिले के कंचरापारा, हलिशहर ,नैहाती नगर पालिका से संबंधित हैं।

पहले खबर आ रही थी कि बीजेपी में टीएमसी के 2 विधायक शामिल होंगे परन्तु अब 3 विधायक शामिल होने वाले है। इसके अतिरिक्त बीजेपी में कांग्रेस के दो और माकपा के 1 विधायक भी शामिल हो सकते हैं।

बता दें कि बंगाल में इस बार के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने जीत हासिल की है। उनकी इस जीत में मुकुल रॉय का भी बड़ा हाथ है। पूर्व में रॉय टीएमसी के कद्दावर नेता रहे हैं और अब वह बीजेपी में शामिल हो गए। उन्होंने अपनी रणनीतियों के आधार पर बीजेपी को जीत हासिल करने में योगदान दिया।

पश्चिम बंगाल में बीजेपी को 18 और कांग्रेस को केवल 2 सीटें ही मिली हैं। इस जीत में मुकुल रॉय और बंगाल बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय का भी बहुत बड़ा योगदान है। बीजेपी ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस के पसीने छुड़ा दिए है।

बता दें कि अर्जुन सिंह जैसे कई लोग है जो बीजेपी में शामिल हुए है और अब वह सांसद बन गए हैं।  तृणमूल कांग्रेस पार्टी से ये लोग सांसद बनना चाहते थे परन्तु तृणमूल ने उनके नाम पर कभी भी गौर ही नहीं किया। जिस कारण उन्होंने पार्टी ही छोड़ दी।