Go to the profile of  Prabhat Sharma
Prabhat Sharma
1 min read

तेज प्रताप यादव ने दिखाए बगावती तेवर, सारण से अपने ससुर के खिलाफ निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव

तेज प्रताप यादव ने दिखाए बगावती तेवर, सारण से अपने ससुर के खिलाफ निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव

लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव अपने परिवार से नाराज़ चल रहे हैं जिसके चलते अब उन्होंने अपना बागी तेवर दिखाना शुरू कर दिया है। सूत्रों से पता चला है की सारण सीट से तेज प्रताप अपने ससुर चंद्रिका राय के विरोध में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव में खड़े हो सकते है। चंद्रिका राय को राजद ने अपना प्रत्याशी बना दिया है।

चंद्रिका राय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय के बेटे है। साथ हीं परसा विधानसभा सीट से विधायक भी है। तेज प्रताप यादव से उनकी बेटी ऐश्वर्या राय की शादी हुई थी लेकिन कुछ दिनों पहले ही तेज प्रताप ने तलाक की अर्जी कोर्ट में दी है। तभी से तेज प्रताप अपने ससुर चंद्रिका राय के पक्ष में नहीं है और उनका विरोध कर रहे है।

जानकारी दे दें की शुक्रवार को तेज प्रताप यादव के भाई तेजस्वी यादव ने राजद के प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। लेकिन जैसे ही तेज प्रताप के ससुर चंद्रिका राय को सारण से टिकट दिया गया वैसे ही यह ख़बरे भी तूल पकड़ने लगी की तेज प्रताप को इस फैसले से आपत्ति है और वह सारण से ही निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतरने का मन बना रहे है। लेकिन बता दे की अभी तक इस बात का आधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है।

जानकारी दे दें की तेज प्रताप यादव पिछले गुरुवार को ही अपने समर्थकों को शिवहर और जहानाबाद सीट से टिकट देने की मांग कर रहे थे। इसके लिए वह प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करने वाले थे। परन्तु इसमें लालू यादव द्वारा हस्तक्षेप किया गया जिससे इसे रद्द करना पड़ा। लेकिन इस पर तेज प्रताप यादव का गुस्सा शांत हुआ और उन्होंने छात्र राजद के संरक्षक पद से अपना इस्तीफा दे दिया।

बता दे की तेज प्रताप यादव के पिता लालू यादव ने 1977 में अपनी संसदीय पारी का आरम्भ इस सीट से ही किया था।