Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

कमल हासन द्वारा दिए गए विवादित बयान के विराध में उन पर फेंकी गई चप्पल

कमल हासन द्वारा दिए गए विवादित बयान के विराध में उन पर फेंकी गई चप्पल

कमल हासन ने कुछ दिनों पहले एक विवादित बयान दिया है जिस पर कई लोगो ने आपत्ति जताई थी। अब मदुरई के तिरुप्पारनकुंद्रम विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान उन पर चप्पल फेंकी गयी।

बता दे की उन्होंने कुछ दिनों पहले नाथूराम गोडसे को भारत का पहला हिंदू आतंकवादी कहा था। नाथूराम गोडसे ने महात्मा गाँधी की हत्या की थी और उनके हत्यारे को कमल हासन ने पहला हिंदू आतंकवादी बताया था। 13 मई को 64 साल के राजनेता कमल हासन ने  तमिलनाडु के अरवाकुरिची विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के दौरान कहा था कि 'मैं ये इसलिए नहीं कह रहा कि यहां काफी संख्या में मुसलमान हैं। मैं ये महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने कह रहा हूं। आजाद भारत में पहला आतंकवादी एक हिंदू था। उसका नाम था- नाथूराम गोडसे।'

चप्पल फेकने की घटना की शिकायत को दर्ज कर लिया गया है जिसमे 11 लोगों के नाम है। इन नामो में भाजपा कार्यकर्ता और अन्य संगठन हनुमान सेना का नाम शामिल है। यह घटना तब हुयी जब हासन स्टेज पर लोगो को समोधित कर रहे थे तब किसी ने उनकी ओर चप्पल फेंकी। हलाकि चप्पल हासन को नहीं लगी और वह भीड़ में ही गिर गयी।

रविवार को अरवाकुरिची और तिरुप्पारनकुंद्रम  के चार विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव होने है। और पहली बार कमल हासन की मक्कल निधि मय्यम चुनाव लड़ने जा रही है।बीजेपी की अध्यक्ष तमिलसाईं सुंदरराजन ने कमल हासन पर प्रतिक्रिया करते हुए ट्वीट में लिखा है कि , 'हम कमल हासन के चुनाव प्रचार के दौरान हिंदू आतंकवादी के बारे में बात करने की निंदा करते हैं। वह ऐसी जगह सांप्रदायिक हिंसा भड़का रहे हैं, जहां बहुत सारे अल्पसंख्यक लोग हैं। चुनाव आयोग को इस भाषण के लिए कमल हासन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।'

इतना ही नहीं  तमिलनाडु के मंत्री केटी राजेंद्र भालाजी ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि उनकी जीभ काट देनी चाहिए।