Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

RBI का बड़ा फैसला, ब्याज दरों में हुई 0.25% की कटौती

RBI का बड़ा फैसला, ब्याज दरों में हुई 0.25% की कटौती

कुछ समय पहले खबर आ रही थी रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया एक बार फिर लोगों को होम लोन या ऑटो लोन के EMI में राहत दे सकते है। गुरुवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI)  मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी)  ने बैठक की । इस बैठक में RBI ने आम आदमी और कंपनियों को बड़ा तोहफा देते हुए ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया है। मौद्रिक समीक्षा के दौरान रेपो रेट में 0.25% कटौती का फैसला किया।

भारतीय रिजर्व बैंक के इस फैसले के साथ ही अब रेपो रेट 6.0% से घटकर 5.75% हो गया।रेपो रेट कम होने का मतलब यह होता है की अब जब भी बैंक भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) से पैसे(फंड)  लेगा तो उन्हें नई दर पर फंड मिलेगा। इसके अलावा रेपो रेट में कटौती से बैंकों के धन की लागत कम होगी और वह अपने ग्राहकों को सस्ता कर्ज दे पायेंगे।जिसके कारण होम लोन, ऑटो लोन और दूसरे कर्ज सस्ते हो सकते हैं।

रेपो रेट कम होने से नया लोन आसानी से मिल जाएगा और वही लोन ले चुके लोगो को EMI या रीपेमेंट पीरियड में फायदा मिला सकता है।स्डीके साथ ही रिजर्व बैंक ने जीडीपी का अनुमान घटा दिया है। बता दे जीडीपी ग्रोथ रेट 7.2 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया गया है।

इसके अलावा भारतीय रिजर्व बैंक ने ऑनलाइन फंड ट्रांजेक्‍शन करने वालों के लिए खुशखबरी है। दरअसल, रिजर्व बैंक ने RTGS और NEFT लेनदेन पर लगाए गए शुल्क को हटा दिया है। इसका मतलब यह है की RTGS और NEFT के जरिए ट्रांजेक्‍शन करने वालो को कोई एक्स्ट्रा चार्ज नहीं देना होगा।बता दे RTGS के जरिये आप 2 लाख या उससे ज्यादा का फंड आराम से ट्र्रांसफेर कर सकते है।

Loading...