Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

ज्योतिरादित्य की पत्नी ने उड़ाया था के.पी. यादव का मज़ाक, अब उसी से हार गए हैं ज्योतिरादित्य

ज्योतिरादित्य की पत्नी ने उड़ाया था के.पी. यादव का मज़ाक, अब उसी से हार गए हैं ज्योतिरादित्य

लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने भारी जीत हासिल की है। देश भर में मोदी लहर देखी जा रही है। बीजेपी ने इस बार बहुमत के आंकड़े को भी पार कर लिया है। बता दे की लोकसभा चुनाव 2019 में कई दिग्गज नेताओं को हार का मुंह देखना पड़ा है। जैसे की कांग्रेस के राहुल गाँधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया भी अपने क्षेत्रों में हार गए है। ज्योतिरादित्य सिंधिया को गुना की सीट से उनके प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के कृष्ण पाल यादव ने एक लाख से अधिक वोटों से हराया है।

जानकारी दे दें कि कृष्ण पाल यादव पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ थे। परन्तु पिछले उपचुनाव में उनकी अनदेखी की गयी जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस को छोड़ दिया और बीजेपी में आ गये।

कृष्ण पाल यादव एक एमबीबीएस डॉक्टर हैं और उनके पिता अशोकनगर में कांग्रेस के जिलाध्यक्ष रहे हैं। पहले कृष्ण पाल यादव ज्योतिरादित्य सिंधिया के नज़दीकी हुआ करते थे और उनकी चुनावी तैयारियों को भी वह देखते थे।

बताया जाता है कि कृष्ण पाल यादव मुंगावली विधानसभा के उपचुनाव में टिकट के मुख्य दावेदार में से एक थे और सिंधिया ने कृष्ण पाल यादव को इसके लिए तैयारी करने को भी कह दिया था। परन्तु समय आने पर उन्हें टिकट नहीं दिया गया। फिर उन्होंने कांग्रेस छोड़कर बीजेपी को जॉइन किया।

कृष्ण पाल सिंह के विषय में एक सेल्फी का किस्सा भी है। बताया जाता है कि सोशल मीडिया पर एक बार ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शिनी सिंधिया ने एक फोटो पोस्ट की थी जिसपर उन्होंने कहा कि कभी जो महाराज के साथ सेल्फी लेने के लिए लाइन में रहते थे। उन्हें अब बीजेपी ने अपना प्रत्याशी चुना है। परन्तु अब प्रियदर्शिनी का यह मज़ाक उनपर ही भारी पड़ गया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए कहा जा रहा था कि उनके सामने भाजपा ने के.पी. यादव जैसे कमजोर प्रत्याशी को उतारा है 23 मई को ज्योतिरादित्य सिंधिया आसानी से जीत हासिल कर लेंगे।  लेकिन के.पी. यादव ने जीत हासिल करके उनके पसीने छुड़ा दिए।