Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

धोनी के ग्लव्स पर सेना का बैज देखकर ICC ने जताई आपत्ति

धोनी के ग्लव्स पर सेना का बैज देखकर ICC ने जताई आपत्ति

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और वर्तमान टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी को आईसीसी ने बड़ा झटका दिया है। दरअसल हुआ यूँ की बुधवार को दक्षिण अफ्रीका के साथ मैच के दौरान धोनी के जो ग्लव्स पहने हुए थे उसमे एक बैज लगा हुआ था। यह बैज भारतीय स्पेशल फोर्सेस का चिन्ह रेजिमेंटल डैगर है। जिसे बलिदान बैज भी कहा जाता है। आईसीसी ने धोनी को अपने ग्लव्स से 'बलिदान बैज' का निशान हटाने को कहा है।

बता दे महेंद्र सिंह धोनी के ग्लव्स पर ICC की नज़र तब पड़ी जब 40वे ओवर के दौरान युजवेंद्र चहल की गेंद पर दक्षिणी अफ्रीकी बल्लेबाज एंडिले फेहलुकवायो को स्टंप्स आउट किया था। इस पर आपत्ति जताते हुए आईसीसी के महाप्रबंधक क्लेयर फर्लांग ने कहा कि “प्रत्येक विकेट-कीपिंग ग्लव पर दो निर्माताओं के लोगो की अनुमति है। इसके अलावा कोई दूसरा लोगो नहीं लगा सकते। बात दे 'बलिदान बैज' वाले चिह्न् का इस्तेमाल सिर्फ पैरा कमांडो वालों को ही करने की अनुमति मिली हुई है।

क्या आप जानते है धोनी के ग्लव्स पर इस बैज का कारण क्या है ? आइये जानते है -

बता दे साल 2011 में अपने महेंद्र सिंह धोनी को क्रिकेट में उनकी उपलब्धियों के कारण उन्हें प्रादेशिक सेना में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल की रैंक दी गई थी। धोनी यह सम्मान पाने वाले कपिल देव के बाद दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं। क्या आप जानते है धोनी एक प्रशिक्षित पैराट्रूपर हैं. उन्होंने पैरा बेसिक कोर्स किया है और पैराट्रूपर विंग्स पहनते हैं।धोनी ने तीन अप्रैल 2018 को लेफ्टिनेंट कर्नल की वर्दी में राष्ट्रपति भवन में पद्म भूषण अवॉर्ड प्राप्त किया था।

जंहा एक तरफ ICC उन्हें यह बैज हटाने को कहा वही दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर धोनी के सपोर्ट में खड़े हुए है। ट्विटर पर #DhoniKeepTheGlove का ट्रेंड चल रहा है -