Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

गरीबों को 72 हजार देने के बयान पर खुद कांग्रेसी नहीं रह पा रहे हैं कायम, बदल रहे हैं बयान

गरीबों को 72 हजार देने के बयान पर खुद कांग्रेसी नहीं रह पा रहे हैं कायम, बदल रहे हैं बयान

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने आने वाले लोकसभा चुनावों को को ले कर गरीब गरीबों के लिए एक नयी घोषणा की थी जिसमे उन्होंने कहा था की यदि कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो वह गरीबों को सालाना 72 हजार रुपये देगी। राहुल गांधी ने इस दौरान बताया की इस स्कीम के तहत जिन लोगो की आय 12 हजार रुपये से कम है उन्हें यह लाभ मिलेगा। राहुल गांधी ने अपने बयान में कहा की जिन लोगो की इनकम लाइन 12000 रूपए की है अर्थात यदि किसी की इनकम 6000 रूपए है तो कांग्रेस सरकार 12000 और 6000 के बीच के इस गैप को कवर (टॉपअप) करेगी। इस योजना से 25 करोड़ गरीब परिवारों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा की सरकार उनकी मदद तबतक करेगी जबतक की उनकी न्यूनतम आय 12000 रुपये नहीं हो जाती।

राहुल गांधी द्वारा की गई इस घोषणा के २४ घंटे भी नहीं हुए थे की कांग्रेस की तरफ से इस बयान में बदलाव किया जाने लग गया। जी हाँ कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस घोषणा के विषय में कहा की यह कोई टॉपअप स्कीम नहीं है। इस घोषणा के तहत केवल 20 प्रतिशत परिवारों को सालाना 72 हजार रुपये दिए जायेंगे। उन्होंने साफ़ तौर पर कहा की यह कोई टॉपअप स्कीम नहीं है। हर परिवार को सालाना 72 हजार रुपये मिलेंगे जिसमे 5 करोड़ परिवार यानी 25 करोड़ लोगो को यह रुपये दिए जायेंगे।

अब आप ही सोच सकते है की किसकी बात सही है? जब कांग्रेस के लोगो को ही घोषणा क्या करना ही याद नहीं है तो सत्ता में आने के बाद उन्हें अपने द्वारा किया गया वादा याद भी रहेगा की नहीं?