Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

अमेठी में राहुल के संभावित हार के बाद अब रायबरेली के भाजपा प्रत्याशी ने कहा ‘सोनिया हार रही है’

अमेठी में राहुल के संभावित हार के बाद अब रायबरेली के भाजपा प्रत्याशी ने कहा ‘सोनिया हार रही है’

कांग्रेस पार्टी की कुछ पारंपरिक सीटों में प्रमुख रूप से आती हैं उत्तरप्रदेश की अमेठी और रायबरेली लोकसभा क्षेत्र। इन सीटों पर ज्यादातर मौक़ों पर गांधी नेहरू परिवार के ही कैंडिडेट चुनाव लड़े और जीते। बहरहाल अब परिस्थितियां बदलती हुई नजर आ रही हैं। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों में ही कांग्रेस के चुनावी गढ़ दरकने शुरू हो गए थे। अमेठी में राहुल गांधी को भाजपा की स्मृति ईरानी ने ज़बरदस्त टक्कर दी थी। इस बार भी वे अमेठी में राहुल गांधी को टक्कर देने के लिए कमर कस चुकी हैं और शायद इसीलिए राहुल अमेठी के साथ साथ केरल की एक सुरक्षित सीट से भी चुनाव लड़ रहे हैं। सिर्फ अमेठी ही नहीं अब तो रायबरेली से भाजपा के उम्मीदवार ने भी सोनिया गांधी को हारने का ऐलान कर दिया है।

बता दें की रायबरेली से पूर्व कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी पिछले कुछ लोकसभा चुनावों से चुनाव लड़ती और जीतती हुई आ रही हैं। पर इस बार उनके विरुद्ध चुनाव लड़ रहे भाजपा उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह ने खुद को मिनी मोदी बताते हुए कहा है कि ‘प्रधानमंत्री मोदी ने मुझे चुनाव लड़ने के लिए चुना ये मेरे लिए गर्व की बात हैं।’

तमाम विरोधी दलों पर हल्ला बोलते हुए भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि ‘मैं कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बीएसपी में रहा हूं और इन सबका कच्चा चिट्ठा जानता हूँ।’ उन्होंने परिणामों को लेकर दावा करते हुए बताया कि ‘23 मई के दिन सबको पता चल जायेगा की मैं बलि का बकरा नहीं हूँ।’

भाजपा के प्रत्याशी ने आगे कहा कहा कि ‘रायबरेली की जनता बहुत समझदार हैं। ये जानती हैं कि रायबरेली और अमेठी के बाहर मायावती और अखिलेश कांग्रेस को वोट ने देने की अपील कर रहे हैं।’ उन्होंने यह भी कहा कि ‘सोनिया गांधी लाखों वोट के अंतर से चुनाव हार रही हैं और इसका पता आप सब को 23 मई को चल जायेगा।’