Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

नवगठित मंत्रालयों में गृहमंत्री के रूप में शामिल हुए अमित शाह

नवगठित मंत्रालयों में गृहमंत्री के रूप में शामिल हुए अमित शाह

मोदी सरकार ने नीति आयोग के पुनर्गठन को मंजूरी दे दी है अब नीति आयोग में गृह मंत्री अमित शाह भी पदेन सदस्य होंगे। अमित शाह की अगर बात की जाये तो वो मोदी सरकार को केंद्र में वापस लाने में मुख्य भूमिका निभाई है। कैबिनेट की नवगठित सभी आठ समितियों में अमित शाह गृह मंत्री के रूप में शामिल है। मोदी सरकार में शाह को मुख्य औदा दिया गया है। अमित शाह के साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त और कॉरपोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण, कृषि और किसान कल्याण, ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पदेन सदस्य नियुक्त किया है।

केन्द्र की पिछली नरेन्द्र मोदी सरकार ने 2015 में नीति आयोग का गठन किया था। इससे पहले इसे योजना आयोग के नाम से जाना जाता था। केन्द्र में बीजेपी की सरकार बनने के बाद पहली बार आयोग का पुनर्गठन कर पदेन के तौर पर गृहमंत्री अमित शाह के साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त और कॉरपोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण, कृषि और किसान कल्याण, ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को शामिल किया गया है।

आर्थिक मामलो से सम्बन्धित समिति में मोदी, अमित शाह और राजनाथ के साथ निर्मला सीतारमण, नितिन गडकरी, पियूष गोयल, सदानंद गोडा, नरेंद्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर बादल और धर्मेन्द्र प्रधान को रखा गया है । नरेंद्र मोदी छह कमेटियों की अध्यक्षता करेंगे वंही राजनाथ सिंह को छह समितियों में और अमित शाह को सभी आठ समितियों में शामिल किया गया है ।

गृह मंत्री और भाजपा प्रमुख अमित शाह जल्द ही स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के बंगले में प्रवेश करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि वाजपेयी जी की मृत्यु के बाद अगस्त में बंगला खाली हो गया। 2004 के चुनाव में एनडीए के हारने के बाद वाजपेयी पूर्व पीएम के रूप में बंगले से चले गए थे। सूत्रों ने कहा कि नया आवास शाह के उत्तरी ब्लॉक कार्यालय के करीब है।