Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

मोदी की दीवानगी में विदेश की नौकरी छोड़कर वोट डालने के लिए स्वदेश आया शख़्स

मोदी की दीवानगी में विदेश की नौकरी छोड़कर वोट डालने के लिए स्वदेश आया शख़्स

देश और दुनिया में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता के बहुत चर्चे हैं। ना सिर्फ देश में बल्कि विदेशों में रह रहे भारतीय तो मोदी को ख़ूब पसंद करते हैं। हाल ही में श्री नरेंद्र मोदी मंगलौर में एक सभा को संबोधित कर रहे थे। इस सभा में ऑस्ट्रेलिया से आया हुआ एक ऐसा शख़्स भी मौजूद था जो अपनी नौकरी छोड़कर मोदी को वोट देने के लिए स्वदेश वापिस आया था।

इस शख़्स का नाम सुधींद्र हेब्बर है। 41 वर्षीय सुधींद्र सिडनी एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग ऑफिसर थे। जब उन्हें पता चला कि पैसेंजर की अधिकता के कारण उनकी छुट्टी नही बढ़ाई जा सकती तो उन्होंने नौकरी ही छोड़ दी। सुधींद्र को भारत में वोट डालने के लिए आना था। वे मोदी के बड़े समर्थक हैं और उन्हें वोट देने का यह अवसर वे चूकना नही चाहते थे। श्री मोदी को वोट देना उन्हें अपनी नौकरी से भी अधिक महत्वपूर्ण लगा और उन्होंने नौकरी छोड़ दी तथा वोट डालने के लिए यहाँ आ गए।

सुधींद्र ने कहा कि मैं सिडनी में यूरोप और पाकिस्तान समेत पूरी दुनिया के लोगों से मिलता हूँ और इस दौरान जब भी कोई कहता है कि भारत का भविष्य काफी अच्छा है तो मैं बहुत गौरवान्वित महसूस करता हूँ। सुधींद्र ने कहा कि मैं इसका श्रेय मोदी जी को देता हूँ। उन्होंने कहा कि मैं सीमा पर जाकर देश की रक्षा को नही कर सकता लेकिन वोट डालकर देश के प्रति अपना कर्तव्य तो निभा सकता हूँ।

सुधींद्र ने कहा कि वे ऑस्ट्रेलिया में परमानेंट रेजीडेंसी कॉर्ड होल्डर हैं। उनकी पत्नी फिजी भी ऑस्ट्रेलिया की ही रहने वाली हैं। सुधींद्र सिडनी रेल में भी काम कर चुके हैं। उन्होंने कहा उनको दूसरी नौकरी मिलने में ज़्यादा दिक्कत नही होगी। सुधींद्र 2014 के चुनावों में भी वोट डालने के लिए ऑस्ट्रेलिया से भारत आये थे।

देश के युवाओं और मतदाताओं के लिए सुधींद्र एक प्रेरणा है। उनकी देश के प्रति प्रतिबद्धता क़ाबिले तारीफ़ है। उनकी इस निष्ठा को देखकर देश के मतदाता निश्चित ही जागरूक होंगे और अधिक से अधिक मतदान करके देश में एक मज़बूत सरकार को बनने में मदद करेंगे।