Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

इजरायल चुनावों में पीएम नेतन्याहू ने भी अपनाई मोदी की रणनीति, खुद को बताया देश का चौकीदार

इजरायल चुनावों में पीएम नेतन्याहू ने भी अपनाई मोदी की रणनीति, खुद को बताया देश का चौकीदार

भारत में तो लोकसभा चुनावों को ले कर चुनावी माहौल खूब गर्म है। लेकिन आपको बता दे की आज यानि मंगलवार को इजरायल में भी आम चुनाव के लिए वोटिंग की जा रही है। वैसे तो यहाँ भी किसी और देश की तरह चुनाव हो रहे हैं लेकिन दिलचस्प बात ये है की इजरायल के इस चुनाव में भारतीय लोकसभा चुनाव की छवि को भी देखा जा सकता है।

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा की इजरायल के मौजूदा पीएम स्वयं को मोदी की भांति ही  'चौकीदार” कहते हुए अपना चुनाव प्रचार अभियान चला रहे हैं। इतना ही नहीं वहां पर भी आतंकवाद एक गंभीर मुद्दा है। जिसके कारण वहां की सरकार भी इसे चुनावी मुद्दा बना रही है। यह देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है की भारत के मित्र राष्ट्र इजरायल में चुनाव भारत में होने वाले चुनावों जैसे ही है।

चलिए आपको बताते है की किस तरह दोनों देशों के चुनावों में समानता है? भारत में मोदी जी खुद को चौकीदार कहते है वहीं इजरायल में नेतन्याहू अपने आप को 'मिस्टर सिक्यॉरिटी' बताते हैं जो कमोवेश चौकीदार का ही अंग्रेजी संस्करण माना जा सकता है।

नेतन्याहू यदि इन चुनावों को जीतते है तो वह इजरायल के इतिहास में सबसे लम्बे समय तक कुर्सी पर रहने वाले पीएम बन जायेंगे। दूसरी तरफ भारत के पीएम मोदी यदि इस बार चुनाव जीतते है तो वे सबसे लंबे समय तक पीएम की कुर्सी पर रहने वाले गैर कांग्रेसी पीएम बन जाएंगे।

दोनों देशों के चुनावों में मुद्दे भी समान है। इसमें आतंकवाद को मेन मुद्दा बनाया जा रहा है। जो चुनावी प्रचार में भी इस्तेमाल किये जा रहे है।

जानकारी दे दें की इजरायल की संसद में कुल मिलाकर 120 सीटें हैं और सरकार बनाने हेतु किसी भी पार्टी को कम से कम 3.25 प्रतिशत वोट मिलना ज़रुरी है। इसके बाद वहां के राष्ट्रपति विजयी उम्मीदवार को सरकार बनाने हेतु निमंत्रण देते हैं। यह पूरी प्रक्रिया 28 दिनों के भीतर पूर्ण की जाती है।