Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

ममता के थप्पड़ वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा ‘मैं थप्पड़ खा लूंगा, यह मेरे लिए आशीर्वाद होगा’

ममता के थप्पड़ वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा ‘मैं थप्पड़ खा लूंगा, यह मेरे लिए आशीर्वाद होगा’

देश में चल रहे 17वीं लोकसभा के चुनाव अब अपने अंतिम दौर पर हैं और अब तक पाँच चरणों के मतदान पूर्ण हो चुके है। 12 मई को छठे चरण के मतदान है जिसको लेकर प्रचार अभियान में राजनैतिक पार्टियों के नेता लगे हुए है। हाल ही में 7 मई को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पुरुलिया में दिए अपने भाषण में कहा कि “पैसा मेरे लिए मायने नहीं रखता, वे (मोदी) यहां आकर मेरी पार्टी पर तोलाबाजी का आरोप लगा रहे हैं। मैं उन्हें लोकतंत्र का थप्पड़ मारना चाहती हूँ।” इस बयान पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के बांकुरा और परुलिया में दो जन सभाओं को संबोधित करते हुए कहा, “मैं तो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को दीदी कहकर आदर देता हूँ। वह मुझे थप्पड़ मारना चाहती हैं तो वह भी खा लूंगा। यह मेरे लिए आशीर्वाद होगा।”

पीएम मोदी ने बांकुरा में जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि “दीदी कितनी परेशान हैं इसका अंदाजा उनकी भाषा से लगाया जा सकता है। वे अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं। मुझे तो गालियों की आदत है, लेकिन बौखलाहट में दीदी देश के संविधान का भी अपमान कर रही हैं।”

प्रधानमंत्री ने ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा :- ‘‘दीदी को उन बेटियों के गुस्से की चिंता करनी चाहिए, जिनके साथ आए दिन यहां अत्याचार होते हैं। उन युवा साथियों के गुस्से की चिंता करनी चाहिए, जिनको परीक्षा पास करने के बावजूद नौकरी नहीं मिली। उन कर्मचारियों के गुस्से की चिंता करनी चाहिए, जिनको सैलरी नहीं मिलती, डीए नहीं मिल रहा। 7वें पे कमीशन के हिसाब से वेतन नहीं मिल रहा। दीदी को उन कालीभक्तों, सरस्वतीभक्तों, दुर्गाभक्तों, रामभक्तों के गुस्से की चिंता करनी चाहिए, जिनको पूजा भी डर-डरकर करनी पड़ती है।’’

‘‘दीदी के मन में घुसपैठियों के लिए, विदेशी कलाकारों के लिए ममता है, लेकिन आदिवासी और जो राष्ट्र की सुरक्षा में अहम भूमिका निभा रहे हैं, उनके लिए कोई ममता नहीं। जब हमारे सपूतों ने पाकिस्तान के आतंकियों को घर में घुसकर मारा, तो दीदी ने आतंकियों की लाशें दिखाने की मांग की। जब पूरा देश सर्जिकल स्ट्राइक डे मना रहा था, तो पश्चिम बंगाल की सरकार ने ऐसा करने से इनकार कर दिया।’’

वही परुलिया में भी पश्चिम बंगाल की जनता को संबोधित करते हुए आश्वासन दिया “मैं आपको आश्वासन देने आया हूँ कि जिन घुसपैठियों को दीदी और टीएमसी ने अपना काडर बनाया है, उनकी चुन-चुनकर पहचान होगी। जो यहां हमारी बेटियों को परेशान करते हैं, हमारे सभ्य बंगाली मानुष को परेशान करते हैं, उनकी पहचान की जाएगी। कहते हैं पुरुलिया जो आज सोचता है, वही पश्चिम बंगाल की सोच बन जाती है। जिन्होंने यहां गणतंत्र को गुंडातंत्र में बदला है, उनके दिन अब गिनती के रह गए हैं। आज देश में मोदी को गाली देने का बहुत बड़ा अभियान चल रहा है। पांच चरणों में देश ने एकमत होकर जो मतदान किया है, उससे महामिलावटी दल हताश हो चुके हैं। आपके इस प्यार को मैं ब्याज समेत विकास करके लौटाऊंगा।”

Loading...