Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

प्रियंका गांधी के चुनावी यात्रा पर अयोध्या जाने पर रामलला के दर्शन नहीं करने पर हो रहा है विरोध

प्रियंका गांधी के चुनावी यात्रा पर अयोध्या जाने पर रामलला के दर्शन नहीं करने पर हो रहा है विरोध

लोकसभा चुनाव की घोषणा होने से पूर्व सक्रिय राजनीति में आयी प्रियंका गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष ने कांग्रेस का महासचिव बनाया था और उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की ज़िम्मेदारी दी थी। उत्तर प्रदेश की ज़िम्मेदारी मिलने के बाद प्रियंका गांधी सक्रिय रूप से उत्तर प्रदेश में बैठके और कांग्रेस का प्रचार प्रसार कर रही है। इस दौरान उत्तर प्रदेश में प्रियंका ने गंगा यात्रा भी की है।

हाल ही में प्रियंका गांधी कांग्रेस के प्रचार के लिए अयोध्या यात्रा पर भी गई थी जहाँ प्रियंका ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और एक रोड शो में भी शामिल हुई। उसके बाद उन्होंने नुक्कड़ सभा के माध्यम से वहां के लोगों को संबोधित किया। प्रियंका गांधी हनुमान गढ़ी जाकर दर्शन किये पर प्रियंका ने रामलला के मंदिर में जाकर दर्शन नहीं किये

प्रियंका गांधी का रामलला के मंदिर में दर्शन करने न जाना उन्हें भारी पड़ा। वहां के लोगों ने प्रियंका की आलोचना करते हुए कहा जब यूपी में विधानसभा चुनाव थे तब आप इस शहर में आये थे और अब जब लोकसभा चुनाव आये है तो फिर यहां दिखे हो। बता दे कि करीब 28 वर्ष पहले राजीव गांधी अयोध्या आये थे उसके बाद 26 वर्षों तक गांधी परिवार का कोई सदस्य अयोध्या नहीं आया था।

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद के मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने भी प्रियंका गांधी के अयोध्या दौरे पर आपत्ति जताते हुए कहा की पिछले 70 सालों में कांग्रेस ने अयोध्या के लिए कुछ नहीं किया। कांग्रेस हमेशा से हिन्दू और मुसलमानों को आपस में लड़ाती आयी है। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रियंका का अयोध्या का यह दौरा उन्हें कोई सियासी फायदा नहीं देने वाला है। वे अयोध्या आये और और सरयू के किनारे घूमे और चले जाए। मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ़ करते हुए कहा कि जितना इन्होंने अयोध्या के लिए किया है उतना कांग्रेस ने पिछले 70 वर्षो में नहीं किया।

आयोध्या में वहां के लोगों ने प्रियंका गांधी के सामने नरेंद्र मोदी जिन्दाबाद के नारे भी लगाए और उनकी रैली को काले झंडे भी दिखाए।