Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

50% से कम हिन्दू आबादी वाले वायनाड से राहुल गांधी ने भरा पर्चा, स्वागत में लहराए इस्लामिक झंडे

50% से कम हिन्दू आबादी वाले वायनाड से राहुल गांधी ने भरा पर्चा, स्वागत में लहराए इस्लामिक झंडे

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सभी राजनैतिक पार्टियां देश भर के लोकसभा सीट के लिए अपने तरफ से उम्मीदवार चुन रही है। गुरूवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल की वायनाड सीट से नामांकन भर दिया है। बता दें की राहुल इस तरह उत्तर प्रदेश में अपनी परंपरागत अमेठी सीट के अलावा इस वायनाड से भी चुनाव लड़ रहे हैं। नामांकन दाखिल करने के दौरान उनके साथ कांग्रेस महासचिव और पूर्वी यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं।

नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने वायनाड में एक रोड शो भी किया है। इनके अलावा इस रैली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी शामिल हुए। इस रोड शो में महिलाओं और युवाओं ने शक्ति प्रदर्शन किया। इस रैली में करीब हज़ारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल थे। सभी यहाँ कांग्रेस के झंडे लहरा रहे थे। इन झंडों में कांग्रेस के झंडे के अलावा चाँद तारे वाले हरे झंडे भी दिखाई दिए।

2 किलोमीटर की इस रैली में देखा गया कुछ कार्यकर्त्ता हरे झंडे या पाकिस्तान के झंडे से मिलते जुलते झंडे लहरा रहे थे और जोर जोर से नारे बाज़ी भी कर रहे थे। वहां मौजूद सभी कार्यकर्ता राहुल गांधी के समर्थन में नारे लगा रहे थे।

सूत्रों के अनुसार कहा गया है की वायनाड में हिन्दू लोगों की आबादी कम है और इस्लामिक लोगो की आबादी ज्यादा है। इसलिए राहुल गांधी अपनी दूसरी सीट वायनाड से लड़ रहे है। ताकि उन्हें लोकसभा चुनाव में ज्यादा सपोर्ट मिले।

अपना नामांकन दाखिल करने के बाद राहुल गांधी ने सीपीएम पर निशाना साधते हुए कहा की उन्हें पता है कि सीपीएम अब उनके खिलाफ बोलेगी और हमले करेगी।  लेकिन वो पूरे चुनाव अभियान के दौरान सीपीएम के खिलाफ कुछ भी नहीं बोलेंगे।

Loading...