Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

चुनावों में जहाँ मिली हार, 370 हटने के बाद उस बूथ पर भी लोग भाजपा के सदस्य बनने के लिए उमड़े

चुनावों में जहाँ मिली हार, 370 हटने के बाद उस बूथ पर भी लोग भाजपा के सदस्य बनने के लिए उमड़े

उत्तर प्रदेश के सभी क्षेत्रों में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद बीजेपी ने अपने लिए अनुकूल माहौल बना लिया है। बीजेपी के प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने जानकारी दी कि भाजपा सी-ग्रेड के जिन बूथों पर सदैव हारती थी और जहाँ पार्टी का कोई सदस्य भी नहीं था, अब उन बूथों पर भी 60 से 70 फ़ीसदी तक सदस्य बनाने में कामयाबी हासिल कर ली गई है।

बता दें कि सुनील बंसल ने मंगलवार को बीजेपी मुख्यालय में समस्त क्षेत्र और जिलों के सदस्यता प्रमुखों की बैठक को संबोधित किया। उन्होंने बताया कि पहले रोज औसत 3 लाख सदस्य बनाये जा रहे थे। लेकिन अनुच्छेद 370 खत्म होने के उपरांत अब 6 से 7 लाख तक बढ़ गए है। उत्तर प्रदेश समस्त देश में सदस्यता अभियान में एक नंबर पर है। उन्होंने बताया कि मंगलवार को दोपहर तक 48 लाख 66 हजार 351 नए सदस्य बनाए जा चुके हैं, यह रात तक 50 लाख तक हो जायेंगे। यह अभियान 20 अगस्त तक चलने वाला है जिसमे 80 लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है।

जानकारी दे दें कि 6 जुलाई से 13 अगस्त तक नए और पुराने कुल मिलाकर एक करोड़ 36 लाख 36 हजार 316 सदस्य बन चुके है। जिसमे उत्तर प्रदेश का हिस्सा लगभग 30 फीसद के पार रहा। एक सितंबर से बीजेपी संगठनात्मक चुनाव का कार्यक्रम शुरू करने वाली है। प्रदेश का चुनाव प्रभारी चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन को और प्रदेश मंत्री त्रयम्बक त्रिपाठी व सह प्रभारी का दायित्व वाईपी सिंह को दिया गया है। बूथ में तीन दिन में, मंडल में दो दिन में और एक दिन में जिले का चुनाव होगा। प्रदेश में एक लाख 67 हजार बूथ, 1471 मंडल और 94 जिला इकाइयां है।  बूथों पर पहली बार चुनाव होगा।

Loading...