Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

UP की दो शूटर दादी की कहानी बताएगी आने वाली फिल्म ‘सांड की आँख’, टीज़र हुआ रिलीज

UP की दो शूटर दादी की कहानी बताएगी आने वाली फिल्म ‘सांड की आँख’, टीज़र हुआ रिलीज

देवरानी जेठानी की दोस्ती और बहादुरी पर आधारित फिल्म ‘सांड की आँख’ का टीजर आ गया है। असल घटना पर आधारित इस फिल्म के टीजर को लोगों के द्वारा खूब पसंद किया जा रहा है। इसमें भूमि पेडनेकर और तापसी पन्नू मुख्य किरदार निभा रही हैं। फिल्म में प्रकाशी तोमर के रोल में तापसी पन्नू तथा चंद्रो तोमर के रोल के लिए भूमि पेडनेकर को लिया गया है। इस फिल्म में प्रकाश झा, शाद रंधावा और विनीत कुमार भी अभिनय कर रहे हैं। तुषार हीरानंदानी इस फिल्म के डायरेक्टर हैं।

यह फिल्म उत्तर प्रदेश के बागपत ज़िले के चौहड़ी गाँव की है। यहाँ की दो औरतें प्रकाशी और चंद्रो के बीच देवरानी-जेठानी का रिश्ता है। वे गाँव में ‘शूटर दादी’ के नाम से प्रसिद्ध हैं। टीजर में एक सीन है जब वे परिवार के साथ फोटो खिंचवाने के दौरान घूँघट उठा लेती हैं। जब उनके पति गुस्से से उनकी तरफ देखते हैं तो वापस अपना सिर ढँक लेती हैं। वे टीज़र में शूटिंग रेंज पर जाकर बेधड़क शूटिंग करती हुई भी दिखाई देती हैं।

पूरे टीज़र में उन दोनों के हाथ में बन्दुक दिखाई देती है जिससे पता चलता है कि इस कहानी को उनकी बन्दुक बाजी के इर्द-गिर्द बनाया गया है। एक पुरुष प्रधान समाज में महिलाओं का इस तरह से घूंघट उठाकर मर्दों वाले काम करना वाकई इस कहानी को दिलचस्प बनाता है।

हांलाकि उनका ये दबंग रवैया घर के पुरुषों की आँखों में चुभता है लेकिन वे मदमस्त होकर बन्दुक चलाने में ही अपनी शान समझती हैं। इस फिल्म में विनीत कुमार का किरदार भी दमदार नजर आ रहा है। वे इन दोनों को शूटिंग का गुर सीखा रहे हैं। इस फिल्म में तापसी का यह डायलॉग भी बहुत दमदार लगता है जब वे कहती हैं - “'मैं अर्जुन नहीं हूं। मुझे चिड़िया की आंख नहीं दिखती. मुझे तो सांड की आंख दिखती है!”

फिल्म के इस टीजर में देवरानी जेठानी के बीच में अलग ही रिश्ता नजर आता है। इस फिल्म में दोनों की कहानी को रोचक अंदाज में पेश करने की कोशिश डायरेक्टर तुषार हीरानंदानी ने की है। रिलायंस एंटरटेनमेंट द्वारा प्रड्यूस यह फिल्म 25 अक्टूबर को रिलीज़ होने वाली है।