Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

तीन साल तक भारत 7.50 प्रतिशत की दर से आर्थिक वृद्धि करेगा: विश्व बैंक

तीन साल तक भारत 7.50 प्रतिशत की दर से आर्थिक वृद्धि  करेगा: विश्व बैंक

मोदी सरकार देश को अब आर्थिक रूप से मजबूत बनाने में जुट गयी है। इतना ही नहीं भारत देश के लिए विश्वबैंक ने अनुमान लगाया है कि अगले तीन साल तक भारत बेहतर निवेश तथा निजी खपत के दम पर 7.50 प्रतिशत की दर से आर्थिक वृद्धि करेगा।

यह बात मंगलवार को विश्वबैंक ने जारी अपने वैश्विक आर्थिक परिदृश्य में बताई और कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 में भारत के 7.20 प्रतिशत की दर से वृद्धि करने का अनुमान लगाया जा रहा है।

बैंक ने चीन की आर्थिक दर का भी अनुमान लगाया और कहा कि चीन की आर्थिक वृद्धि दर  2018 में 6.60 प्रतिशत रही है। लेकिन इस दर के नीचे गिरकर 2019 में 6.20 प्रतिशत, 2020 में 6.10 प्रतिशत और 2021 में 6 प्रतिशत तक पहुंचने का अनुमान है।

प्रतीकात्मक फ़ोटो

विश्वबैंक ने कहा, ‘‘मुद्रास्फीति रिजर्व बैंक के लक्ष्य से नीचे है जिससे मौद्रिक नीति सुगम रहेगी। इसके साथ ही ऋण की वृद्धि दर के मजबूत होने से निजी उपभोग एवं निवेश को फायदा होगा।’’

विश्वबैंक के मुताबिक, 2019-20 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.50 प्रतिशत होने का अनुमान है।  पिछले पूर्वानुमान में भी विश्वबैंक ने 2019-20 में वृद्धि दर 7.50 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था। और कहा कि अगले दो वित्त वर्ष तक वृद्धि दर इसी गति से वाली है।

प्रतीकात्मक फ़ोटो

कहा की भारत, दुनिया की सबसे तेजी से वृद्धि करती प्रमुख अर्थव्यवस्था बनेगा। भारत की आर्थिक वृद्धि दर साल 2021 तक चीन के 6 प्रतिशत की अपेक्षा डेढ़ प्रतिशत ज्यादा होगी।

Loading...