Go to the profile of  Rishabh Verma
Rishabh Verma
1 min read

इस मुस्लिम धर्मगुरु ने भी धारा 370 के कश्मीर से हटाए जाने पर जताई ख़ुशी

प्रतीकात्मक तस्वीर

इस मुस्लिम धर्मगुरु ने भी धारा 370 के कश्मीर से हटाए जाने पर जताई ख़ुशी

आज का दिन देश के इतिहास को बदलने वाला दिन था। आज मोदी सरकार की तरफ से गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में धारा 370, 35A को समाप्त करते हुए जम्मू कश्मीर को दो भागों में बाट दिया गया है। पहला भाग जम्मू कश्मीर का है। इसका विशेष दर्जा समाप्त करते हुए इसे भारत का केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है। वही दूसरा भाग लद्दाख का है और इसे भी बिना विधान सभा का एक केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है।

इस पूरे मुद्दे पर देश की कई विपक्षी पार्टियों ने समर्थन किया है तो TMC, PDP और कांग्रेस ने इसका विरोध किया है। इस फैसले के आते ही देशवासियों में एक अलग ही उत्साह देखने को मिल रहा है। मोदी सरकार के इस फैसले से मुस्लिम समाज भी खुश है और उनके एक धर्म गुरु का भी बयान सामने आया है जिसमे वे मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत कर रहे है।

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना सैफ अब्बास ने जम्मू कश्मीर को लेकर आये इस फैसले का स्वागत किया और कहा कि "कश्मीर में अनुच्छेद 370 के कारण हम सब एक मुल्क में रहते हुए भी हम अजनबी थे। एक हिंदुस्तान का नागरिक अगर हिंदुस्तान के ही दूसरे सूबे में जाकर प्रॉपर्टी नहीं ख़रीद सकता या बिज़नेस नहीं कर सकता था तो ये चीजें सोचने वाली हैं। इस मसले को बहुत पहले ही खत्म हो जाना चाहिए था लेकिन राजनेता अपने निजी फायदे के लिए इसे 70 साल तक घसीटते रहे।”

उन्होंने आगे कहा की “एक हिंदुस्तान है एक संविधान है तो सब को एक सा होना चाहिए। यह काम बहुत पहले हो जाना चाहिए था जो कि देर से हुआ है। वो काम होना चाहिए, जिसमें हिंदुस्तान में एकता नजर आए भेदभाव नहीं होना चाहिए। अगर भेदभाव होगा तो देश में बहुत सी सियासी जमात है वो सियासत करेंगी और देश का नुकसान होगा।"

Loading...