Go to the profile of  Punctured Satire
Punctured Satire
1 min read

शहीद का परिवार रहता था झोपड़े में, सरकार ने नहीं की मदद तो गाँववालों ने बनवाया घर, देखें वीडियो

शहीद का परिवार रहता था झोपड़े में, सरकार ने नहीं की मदद तो गाँववालों ने बनवाया घर, देखें वीडियो

सेना के जवानों के शहीद होने के बाद अक्सर सुनने में आता है की सरकार ने शहीदों के परिवारों की मदद की। पर मध्यप्रदेश देपालपुर के पीर पीपलिया गांव में रहने वाले एक शहीद के परिवार को जब सरकार की तरफ से कोई मदद नहीं मिली तो गांववालों ने खुद उनको मदद करने की ठान ली।

दरअसल मध्यप्रदेश के पीर पीपलिया गांव के रहने वाले हवलदार मोहन सिंह सुनेर त्रिपुरा में बीएसएफ की ओर से आतंकियों से लड़ते हुए शहीद हो गये। शहीद मोहन सिंह सुनेर का परिवार पिछले 27 साल से टूटे फूटे कच्चे झोपड़े में रह रहा था। इस परिवार को सरकार की तरफ से भी कोई मदद नहीं मिल रही थी।

गाँववालों ने जब सरकार की तरफ से कोई मदद होती नहीं देखि तो स्वयं सभी गांववालों ने चंदा इकट्ठा किया और 11 लाख रूपये जमा किये और शहीद की विधवा राजू बाई के लिए एक पक्का घर बना कर रक्षाबंधन के दिन तोहफे में दिया।

इस दौरान शहीद की विधवा राजू बाई के गृह प्रवेश का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो में गांव के सभी भाइयों ने रक्षा बंधन के अवसर पर शहीद की विधवा को अपनी हथेलियों पर चलकर गृह प्रवेश करवाया।

Loading...