Go to the profile of  Prabhat Sharma
Prabhat Sharma
1 min read

गाज़ियाबाद की दिल दहला देने वाली घटना: पूरा परिवार मिला मृत, मुँह पर चिपके थे काले टेप

गाज़ियाबाद की दिल दहला देने वाली घटना: पूरा परिवार मिला मृत, मुँह पर चिपके थे काले टेप

गाज़ियाबाद के मसूरी क्षेत्र में एक परिवार के सभी पांच सदस्य संदिग्ध हालत में मृत पाए गए। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उन्हें शुक्रवार की सुबह न्यू शताब्दीपुरम के एक घर में पिता और उसके तीन बच्चों की लाश मिली। पुलिस ने बताया कि घटनास्थल पर पहुँचने पर पत्नी तड़प रही थी। उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई।

पुलिस ने परिवार के मुखिया की लाश के पास से एक सुसाइड लेटर भी बरामद किया है। अभी आत्महत्या का कारण स्पष्ट नही हुआ है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। आत्महत्या करने वाले युवक का नाम प्रदीप है उसके 3, 5 और 8 वर्ष के तीन बच्चे थे तथा उसकी पत्नी एम्स में स्टाफ नर्स थी।

आत्महत्या की सूचना मिलने पर सुबह लगभग 5 बजकर 40 मिनट पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तो देखा कि ज़मीन पर 3 बच्चियों और एक युवक की लाश पड़ी है। 37 वर्षीय युवक ने अपने बच्चों के मुँह पर टेप बाँध कर उन्हें मार डाला तथा पत्नी के सिर पर हथौड़े से वार दिया। इसके बाद उसने खुद को भी ख़त्म कर लिया। पड़ोसियों ने बताया कि प्रदीप खूब शराब पिता था जिसके कारण ही पति पत्नी के बीच बहुत झगड़ा होता था।

प्रदीप अपने माता-पिता, पत्नी और बच्चों के साथ मसूरी इलाके के न्यू शताब्दीपुरम कॉलोनी में रह रहा था। शुक्रवार की सुबह जब उनके कमरे में कोई हलचल नही दिखाई दी तो पड़ोसियों ने दरवाज़ा खटखटाया, जब कोई जवाब नही मिला। फिर उन्होंने खिड़की से अंदर की तरफ देखा तो उन्हें प्रदीप और उसके बच्चों की लाश दिखाई दी। बच्चों के मुंह पर काला टेप बंधा था। प्रदीप की पत्नी लहूलुहान हालत में बिस्तर के पास पड़ी थी और पास में ही ख़ून से सना हुआ हथौड़ा भी था। प्रदीप की पत्नी को अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन इलाज के दौरान ही उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने लाशों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस लगातार लोगों से पूछताछ करने में जुटी है।

जिस कमरे में प्रदीप ने अपने परिवार के साथ आत्महत्या की उसका दरवाज़ा अंदर से बंद था। दूसरे कमरे में उसकी बहन और माता पिता रहते हैं लेकिन उनको कोई चीख पुकार नही सुनाई दी। पुलिस ने बड़ी मशक्कत से दरवाज़ा तोड़कर लाशों को बाहर निकाला।