Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

25 साल की उम्र में सुषमा स्वराज बनी थी सबसे युवा कैबिनेट मंत्री, राजनीतिक सफर रहा सफलताओं से भरपूर

25 साल की उम्र में सुषमा स्वराज बनी थी सबसे युवा कैबिनेट मंत्री, राजनीतिक सफर रहा सफलताओं से भरपूर

भाजपा की वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का मंगलवार रात को निधन हो गया। उन्हें मंगलवार देर शाम को अचानक दिल का दौरा पड़ा था। जिसके बाद उन्हें तुरंत दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वे 67 साल की थी और लंबे अर्से से बीमार चल रही थीं।आइए जानते हैं पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के राजनीतिक सफर की शुरूआत कैसे और कब हुई।

सुषमा स्वराज का जन्म 14 फरवरी 1952 को हुआ था। उन्होंने अंबाला में एसडी कॉलेज अम्बाला छावनी से बीए किया और पंजाब यूनिवर्सिटी से चंडीगढ़ से लॉ की पढ़ाई की थी। उनके पिता हरदेव शर्मा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख सदस्य थे। सुषमा 7 बार सांसद और 3 बार एमएलए रह चुकी हैं। सुषमा स्वराज ने 1970 में छात्र नेता के रूप में राजनीति में प्रवेश किया। सुषमा ने 13 जुलाई 1975 को शादी की थी। वर्ष 1977 में वह महज 25 वर्ष की उम्र में हरियाणा में वे कैबिनेट मंत्री बनीं।

सबसे कम उम्र में कैबिनेट मंत्री बनने वाली वह पहली महिला थी। फिर 1979 में वह हरियाणा में जनता पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष बनीं। 1998 में वह दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनी थीं। सुषमा स्वराज को 1996 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्रालय दिया गया। जिसके बाद 21 दिसंबर 2009 को सुषमा स्वराज विपक्ष की पहली महिला नेता बनीं।

जिसके बाद वर्ष 2014 में भारत की पहली महिला विदेश मंत्री बनने का सौभाग्य उन्हें प्राप्त हुआ। बता दें की वर्ष 2016 में सुषमा स्वराज का किडनी ट्रांसप्लांट भी हुआ था। इसी के चलते उन्होंने 2019 का चुनाव नहीं लड़ा था। तबियत बिगड़ने से कुछ ही देर पहले उन्होंने अनुच्छेद 370 को समाप्त किए जाने पर ट्वीट कर पीएम नरेंद्र मोदी तथा गृह मंत्री अमित शाह को बधाई दी थी।

Loading...