Go to the profile of  Prabhat Sharma
Prabhat Sharma
1 min read

मोदी शाह का जलवा: आतंकी संगठनों को कश्मीर में नहीं मिल रहे युवा, भर्ती में आई 40% तक कमी

मोदी शाह का जलवा: आतंकी संगठनों को कश्मीर में नहीं मिल रहे युवा, भर्ती में आई 40% तक कमी

पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने पुलवामा हमले की जवाबी कारवाई करते हुए एयर स्ट्राइक की थी। इस एयर स्ट्राइक में बालाकोट में स्थित आतंकी ठिकानों को पूरी तरह से तबाह  कर दिया गया था। आतंकवाद पर लगाम लगाने में मोदी सरकार ने कामयाबी हासिल की है। इस बात की जानकारी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने संसद को दी। नित्यानंद राय ने बताया है कि स्थानीय युवकों की भर्ती में 40% की कमी आई है।

मंगलवार को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में कहा की सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद से घुसपैठ में कमी आई है। नित्यानंद राय ने कहा की आतंकवाद पर लगाम देने में मोदी सरकार का बड़ा हाथ है। सरकार द्वारा सीमा पर से होने वाली घुसपैठ को लेकर जीरो टॉलरेंस का असर अब दिखने लगा है। जिसके वजह से चलते जम्मू कश्मीर के हालात सुधरे हैं और पिछले साल के मुकाबले इस साल जून तक घुसपैठ में कमी आई है।

उन्होंने कहा कि साल 2018 की तुलना में 2019 के शुरुआती 6 महीनों में घुसपैठ में 43 फीसदी कमी आई है। आगे नित्यानंद राय ने बताया की LoC पर इलेक्ट्रिक फैंस को लगाए जाने के बाद से ही आतंकवादी डरे हुए है और बॉर्डर पर तैनात भारतीय जवानों ने कई सारे आतंकियों को मार गिराया। रिपोर्ट के अनुसार आतंकियों के सफाए में 22% की बढ़ोतरी हुई है।बीते एक साल में सेना ने अब तक 114 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया है।  

बालाकोट पर हुई एयर स्ट्राइक में आतंकी ठिकानों तबाह करने के साथ साथ करीब 200 से 250 आतंकवादियों को मार गिराया गया था। एयर स्ट्राइक के बाद से पाक इतना डरा हुआ है की कोई आतंकी संगठन में भर्ती नहीं हो रहा है। रिपोर्ट के अनुसार आतंकी संगठनों में स्थानीय (कश्मीरी ) युवकों की भर्ती में 40% की कमी आई है।