Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

कांग्रेस का गुणगान करने वाले रवीश कुमार को मिला मैग्सेसे पुरस्कार, प्रियंका गांधी ने दी बधाई

कांग्रेस का गुणगान करने वाले रवीश कुमार को मिला मैग्सेसे पुरस्कार, प्रियंका गांधी ने दी बधाई

केंद्र सरकार के खिलाफ विपक्ष का पक्ष रखने वाले एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को इस वर्ष रेमॉन मैग्सेसे अवार्ड से सम्मानित किया गया है। इस  पुरस्कार को एशिया का नोबल पुरस्कार भी कह सकते है। जानकारी दे दें कि "रेमॉन मैग्सेसे अवार्ड एशिया की उन संस्थाओं या व्यक्तियों को दिया जाता है जो अपने क्षेत्र में कई विशेष उल्लेखनीय कार्य करते है। इस पुरस्कार को फिलीपीन्स के भूतपूर्व राष्ट्रपति रेमॉन मैग्सेसे की स्मृति में प्रदान किया जाता है। इस पुरस्कार को 6 श्रेणियों में बाटा गया है शासकीय सेवा, सार्वजनिक सेवा, सामुदायिक नेतृत्व, पत्रकारिता एवं साहित्य, शांति और उभरता नेतृत्व।

12 वर्षों के बाद किसी भारतीय पत्रकार को यह सम्मान मिला है। एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार को पुरस्कार देने वाली संस्था ने "रवीश कुमार का कार्यक्रम “प्राइम टाइम” “आम लोगों की वास्तविक, अनकही समस्याओं को उठाता है। अगर आप लोगों की आवाज बन गए हैं, तो आप पत्रकार हैं।"

इस अवार्ड के मिलने के बाद देश में सबसे ज्यादा ख़ुशी कांग्रेस को हुई है और ख़ुशी होना वाजिब भी है क्योंकि सत्ता के विरुद्ध रवीश कुमार ही है जो मीडिया में हमेशा कांग्रेस का पक्ष रखती हैं। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके रवीश कुमार को बधाई देते हुए कहा "सच कहने का साहस और आलोचना के विवेक की मशाल को जिंदा रखने वाले पत्रकार रवीश कुमार को रेमॉन मैग्सेसे पुरस्कार मिलने पर बधाई। मैं उनके धैर्य का आदर करती हूँ।"

जानकारी दे दें कि रवीश कुमार से पहले 1961 में अमिताभ चौधरी को, 1975 में बीजी वर्गीज को, 1982 में अरुण शौरी को, 1984 में आरके लक्ष्मण को और 2007 में पी साईनाथ को यह अवार्ड मिल चुका है।

Loading...