Go to the profile of  Nikhil Talwaniya
Nikhil Talwaniya
1 min read

बृहत् कुम्भ के आयोजन के बाद अब योगी चाहते हैं जन्माष्टमी का आयोजन भी बड़े स्तर पर हो

बृहत् कुम्भ के आयोजन के बाद अब योगी चाहते हैं जन्माष्टमी का आयोजन भी बड़े स्तर पर हो

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चाहते हैं कि 'अयोध्या में दीपोत्सव' की तरह अब वृंदावन में भी बहुत बड़े स्तर पर जन्माष्टमी मनाई जाए। ब्रज तीर्थ विकास बोर्ड की एक मीटिंग को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा अयोध्या में ‘राम नवमी’ और विंध्याचल तथा दूसरी शक्ति पीठों में नवरात्रि भव्य स्तर पर मनाई जानी चाहिए।

मीटिंग में अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि वे ऐसा कर पाते हैं तो इस तरह के कार्यक्रमों को वैश्विक स्तर पर पहचान मिलेगी और पूरी दुनिया से पर्यटकों को आकर्षित करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा की जन्माष्टमी के अवसर पर भगवान के सभी स्थानों को LED लाइट से रोशन किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने आदेश देते हुए कहा, "भगवान कृष्ण के जुड़े सभी स्थानों को अच्छी तरह से जगमगाया जाना चाहिए तथा हेलोजन की जगह LED लाइट का प्रयोग किया जाना चाहिए। पर्यावरण की सुरक्षा के लिए ऐसे स्थानों पर प्लास्टिक को पूरी तरह प्रतिबंधित किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पवित्र शहरों में चल रहे सभी निर्माण कार्य समय पर पूरे किये जाने चाहिए तथा उनकी गुणवत्ता मानकों को बनाये रखने में पूरी सावधानी रखी जानी चाहिए। श्रीकृष्ण की जन्मस्थली ब्रज में लगभग 2 दर्जन परियोजनाएं चल रही है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इन्हें नवंबर से पहले पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

भगवान कृष्ण ने भाद्र माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मथुरा में जन्म लिया था। कृष्ण के जन्म दिवस को जमाष्टमी के रूप में मनाया जाता है। इस दिन मथुरा नगरी में लोग भक्ति के रंग में सराबोर होकर इस त्यौहार को मनाते हैं।